🇮🇳🇮🇳भारत🇮🇳🇮🇳

हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई
सब आपस में भाई भाई।
यहीं रित हमने सिखाई
भारत माता की शान बढ़ाई।।

मंदिर मस्जिद साथ है
साथ है गुरुद्वारा चर्च अगियारी।
सभी धर्मो के त्योहारों में
उत्साह से सब सामिल होते बारी बारी।।

ना कोई उंचनिच है
ना ही कोई भेदभाव है।
क्युकी सबके मन सब
भारत माता की संतान है।।

ना धर्म मायने रखता है
ना मजहब मायने रखता है।
जब मदद की बात आती है
तो सब धर्म समान है।।

उत्तर में हिमालय महान
दक्षिण में महासागर विशाल।
पूरब में है खेत खलियान
तो पश्चिम में है रण वैरान।।

थल,वायु और नौसेना
सब सरहद पर है जवान।
भारत मां की रक्षा के लिए
सब रहते है सावधान।।

आन बान शान है
तिरंगा अपना मान है।
अपने तिरंगे के लिए
न्योछावर अपनी जान है।।

अनेक खूबियां होकर भी
एक है अपना भारत।
तभी तो गर्व से कहते है
अपनी जन्मभूमि और मातृभूमि है भारत।।

वसुधैव कुटुंबकम् की भावना के साथ
संस्कृति हमारी महान है।
यहीं अपनी पहचान है
पूरी दुनिया में भारत का नाम है।।

जय हिन्द

Leave a comment